Twitter

Follow palashbiswaskl on Twitter

Thursday, March 29, 2012

इंडिगो को छोड़ कर सभी विमान कंपनियां संकट में


इंडिगो को छोड़ कर सभी विमान कंपनियां संकट में

नयी दिल्ली, 29 मार्च (एजेंसी) सरकार ने आज माना कि देश में कम लागत वाली विमान कंपनी इंडिगो को छोड़ कर लगभग सभी विमान कंपनियां भारी घाटे के कारण संकट में हैं।


नागर विमानन मंत्री अजित सिंह ने आज राज्यसभा को बताया कि औद्योगिक सूत्रों के अनुसार, वर्ष 2011..12 के लिए यह घाटा 10,000 करोड़ रूपये होने का अनुमान है।
उन्होंने डी राजा और आर सी सिंह के प्रश्न के लिखित उत्तर में कहा कि एटीएफ :एवियेशन टरबाइन फ्यूल: की बढ़ती कीमत, वैश्विक आर्थिक मंदी तथा कड़ी प्रतिस्पर्धा के कारण कम आय और इसके कारण राजस्व तथा व्यय में बढ़ता अंतर भी विमान कंपनियों के घाटे का कारण रहा है।

सिंह ने बताया कि विमान क्षेत्र को राहत देने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। 
उन्होंने बताया कि विदेशी एयरलाइनों द्वारा घरेलू क्षेत्र में 49 फीसदी तक प्रत्यक्ष विदेशी निवेश की अनुमति देने का प्रस्ताव विचाराधीन है।
एयर इंडिया के बारे में उन्होंने बताया कि वित्त वर्ष 2009..2010 में 800 करोड़ रूपये, वित्त वर्ष 2010..11 में 1200 करोड़ रूपये और 2011..12 में 1200 करोड़ रूपये सरकार ने इक्विटी के रूप में दिए हैं। इस बीच मंत्री समूह ने एयर इंडिया को फिर से पटरी पर लाने के लिए बनायी गयी योजना :टीएपी: और वित्तीय पुनर्संरचना योजना :एफआरपी: को मंजूरी दे दी है।

 

No comments:

Post a Comment

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Welcome

Website counter

Followers

Blog Archive