Twitter

Follow palashbiswaskl on Twitter

Saturday, November 9, 2013

मोदी के चुनाव जीतने की आशा में कुलांचे मार रहा है शेयर बाजार: CLSA

मोदी के चुनाव जीतने की आशा में कुलांचे मार रहा है शेयर बाजार: CLSA


इकनॉमिक टाइम्स | Nov 9, 2013, 01.02PM IST
Modi
नरेंद्र मोदी से शेयर मार्केट को आशाएं बड़ी
मुंबई: ग्लोबल इन्वेस्टमेंट बैंक गोल्डमन सैक्स के बाद जानी-मानी विदेशी ब्रोकरेज फर्म CLSA ने भी कहा है कि गुजरात के मुख्यमंत्री नरेंद्र मोदी की जीत की उम्मीद से शेयर बाजार उत्साहित है और इसीलिए शेयर मार्केट में आजकल बढ़त देखी जा रही है। गोल्डमन सैक्स को मोदी फैक्टर के गुणगान करने पर केंद्र की यूपीए सरकार ने नाराजगी जताई थी और इसे भारत के अंदरूनी राजनीतिक मामलों में टिप्पणी करार दिया था।

सीएलएसए ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि स्टॉक मार्केट में मोदी के नेतृत्व में बीजेपी के अगले चुनाव में जीत की बड़ी उम्मीदों के चलते उछाल आया है। यह भी कहा गया है कि सेंसेक्स में जो तेजी आई है उसकी जो दो खास वजहें हैं, उनमें सबसे महत्वपूर्ण मोदी फैक्टर ही है। इसके अलावा अमेरिका में फेडरल रिजर्व के बॉन्ड खरीदने की प्रक्रिया जारी रखने को लेकर बन रहे विश्वास के चलते भी बाजार में उम्मीदें बढ़ी हैं।

सीएलएसए की शुक्रवार को जारी 'ग्रीड ऐंड फीयर' नामक इस रिपोर्ट के बारे में बताते हुए चीफ इक्विटी स्ट्रैटिजस्ट क्रिस्टोफर वुड ने कहा, 'बाजार की रैली उन बढ़ती हुई उम्मीदों से जुड़ी है जिनके मुताबिक बीजेपी के पीएम पद के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी अगले साल मई में होने वाले आम चुनाव में जीत सकते हैं।
बेंचमार्क इंडेक्स सेंसेक्स पिछले 11 हफ्ते में जहां रुपए की टर्म के अनुसार 16 फीसदी बढ़ा। डॉलर टर्म्स के मुताबिक यह 24 फीसदी बढ़ा। रिपोर्ट में कहा गया है कि नरेंद्र मोदी की रैली में राहुल के मुकाबले 6 से 8 गुना ज्यादा लोग आ रहे हैं। अगर बीजेपी 190-200 सीटें पाने में कामयाब होती है तो गठबंधन में बनने वाली सरकार भी काफी हद तक स्थायी होगी।

इसी हफ्ते ग्लोबल इनवेस्टमेंट बैंक ने भारत की रेटिंग बढ़ाकर 'मार्केटवेट' कर दी। पहले उसने यहां के शेयर बाजार को 'अंडरवेट' रेटिंग दी थी। उसने निफ्टी के लिए 2014 के अंत तक 6,900 का टारगेट तय किया है। यह अभी से 10 फीसदी ज्यादा है।

गोल्डमन सैक्स की मंगलवार को पब्लिश हुई रिपोर्ट में कहा गया, 'अभी भारत हायर करेंट एकाउंट और फिस्कल डेफिसिट, ज्यादा महंगाई दर और सख्त मॉनेटरी पॉलिसी जैसी मुश्किलों का सामना कर रहा है। हालांकि, अगले साल केंद्र में सत्ता बदलने की उम्मीद इन पर भारी पड़ रही है। माना जा रहा है कि मई 2014 में लोकसभा चुनाव के बाद बीजेपी की अगुवाई में केंद्र में एनडीए की सरकार बनेगी।' इसमें यह भी कहा गया, 'इक्विटी इनवेस्टर्स बीजेपी को बिजनस फ्रेंडली मानते हैं। इसके पीएम कैंडिडेट नरेंद्र मोदी हैं। इनवेस्टर्स उनसे बदलाव की उम्मीद कर रहे हैं।''

No comments:

Post a Comment

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...

Welcome

Website counter

Followers

Blog Archive